UPI Services Rolled Out In Sri Lanka & Mauritius: अब से श्रीलंका और मॉरिशस में भारतीय नागरिक UPI से पेमेंट कर सकते है।

UPI Services Rolled Out In Sri Lanka & Mauritius: आज 12 फेब्रुअरी ,2024 से UPI (Unified Payment Interface) का ईवा श्रीलंका और मॉरिशस में सुरु हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, इससे सीमा पार लेनदेन और संबंध मजबूत होगी। 

आज एक वर्चुअल सेरेमनी में प्रधानमंत्री मोड़ें के साथ ,मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्राविंद जगनॉथ और श्रीलंकन प्रेजिडेंट रानिल विखरेमसिंघे, मॉरिशस में Rupay कार्ड सर्विस सुभारम्भ होने के साक्षी रहा। हरेक साल मॉरिशस में बहुत भारतीय घूमने जाते है , UPI सुरु होने के बाद ऑनलाइन लेनदेन करना आसान हो जायेगा और करेंसी भी काम एक्सचेंज करना पड़ेगा। 

सबसे पहले कोण से देश में UPI सर्विसेज सुरु हुआ था? (In Which Foreign Country UPI Service Was First Introduced?)

इस से पहले भूटान (Bhutan) पहले देश था ,जहा पे UPI सर्विस 2021 पे चालू हुआ था। सिर्फ UPI नहीं ,इस के साथ भतन में Rupay कार्ड का बबहार 2021 साल से सुरु हो गया था। UPI और Rupay कार्ड का सेवा भूटान में चालू करने के लिए NPCI International Payments Ltd (NIPL), The International arm of National Payment Corporation of India ,और Royal Monetary Authority (RMA) of Bhutan एक साथ काम किया था। 

और पड़े :-Tata Motors Share Price Target : कितना दूर जायेगा टाटा मोटर्स, चलिए एनालीसीस देख लीजिये 

कौन कौन सा देश मे UPI और रूपए कार्ड सेवे अभी चालू है ? (In Which Countries UPI & Rupay Card Services Are Available?)

ओमान (Oman)

ओमान देश में 4 अक्टूबर, 2022 में National Payments Corporation of India (NPCI), International Payments Ltd (NIPL), और the Central Bank of Oman (CBO) एक MOU साइंड किया जहा पर यह बोलै गया था ,इंडिया का कोई बैंक से इशू हुआ Rupay कार्ड्स OmanNet network ATMs, POS और E-commerce sites मैं स्वीकृत होगा और पारस्परिक Oman कार्ड्स/MPCSS इंडिया का NPCI नेटवर्क के अंदर स्वीकृत होगा। 

नेपाल (Nepal)

नेपाल से कोई भी इंडिया के बैंक के अंदर UPI से मोबाइल बैंकिंग हेल्प से पैसा भेज सकते है। इंडिया का Google Pay अभी नेपाल का 9 e-coomerce स्टोर मैं चल रहा है। 

श्रीलंका (Sri Lanka ) 

भारतीय नागरिक श्रीलंका में UPI के हेल्प से ऑनलाइन पेमेंट भेज सकते है। ये श्रीलंकन और इंडियन सरकार का डिजिटल पेमेंट स्यतेम के सहायता से संभव हुआ है। 

फ्रांस (France)

फ्रांस में 26 जनुअरी ,2024 को प्रजातंत्र दिबस से फेमस एइफ्फेल टावर का सर्विस लेने के लाइट अभी से UPI पेमेंट स्वीकृत हुआ है। 

फ्रांस का एक पेमेंट प्लेटफार्म Lyra जो इ-कॉमर्स और स्टोर का पेमेंट एक्सेप्ट करता है ,NPCI से कॉलबॉरशन करके फ्रांस के जो जायगा में Lyra का पेमेंट प्लेटफार्म रहेगा उहा UPI भी एक्सेप्ट होने का सुबिधा प्रदान कर रहा है । 

साउथ-ईस्ट एशिया (South-East Asia)

इस के अलावा NIPL ,Liquid ग्रुप के साथ एक चुक्ति साक्षर किया है जो मालयसिआ (Malaysia),थाईलैंड(Thailand), फिलिप्पीन्स (Philippines),वियतनाम (Vietnam), सिंगापुर (Singapore),कंबोडिया (Cambodia),साउथ कोरिया (South Korea),जापान (Japan), ताइवान (Taiwan), और होन्ग कोंग (Hong Kong) मैं अगले दिनों में UPI सर्विस प्रदान करेगा। 

और पड़े :-Exicom Teleservices Ltd. IPO 2024: इलेक्ट्रिक चार्जिंग सर्विसेज कंपनी एक्सिकॉम टेलेसेर्विसेस लिमिटेड का आईपीओ आ रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने क्या कहा ?(What Prime Minister Modi Said About UPI Payments In Foreign Countries?)

PM मोदी ने कहा की डिजिटल सार्बजनिक बुनियादी ढांचे ने भारत में एक क्रांतिकारी बदलाब लाया है और पिछले साल इस सेवा के माध्यम से 2 लाख करोड़ रुपये या आठ ट्रिलियन श्रीलंकाई रुपये और एक ट्रिलियन मॉरीशस रुपये से अधिक मूल्य के 100 अरब से अधिक लेनदेन किए गए थे। 

मोदी ने कहा, प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से पारदर्शिता और समावेशिता बढ़ी है और भ्रष्टाचार समाप्त हुआ है। उन्होंने उम्मीद जताई कि नई फिनटेक सेवाएं पहले मॉरीशस और श्रीलंका को मदद करेंगी, और कहा कि यूपीआई “भारत के साथ भागीदारों को एकजुट करने” की एक नई जिम्मेदारी निभा रहा है।मोदी ने कहा, टेक्नोलॉजी के उपयोग से पारदर्शिता और समावेशिता बढ़ी है और भ्रष्टाचार समाप्त हुआ है। उन्होंने उम्मीद जताई कि नई फिनटेक सेवाएं सबसे पहले मॉरीशस और श्रीलंका को मदद करेंगी, और कहा कि UPI “भारत के साथ भागीदारों को एकजुट करने” की एक नई जिम्मेदारी ले रहा है।

 भारत महासागर खेत्र के तीन मित्र देश के लिए आज का दिन खास है। मोदी ने कहा “आज हम अपने ऐतिहासिक संबंधों को आधुनिक डिजिटल तरीके से जोड़ रहे हैं। मुझे विश्वास है कि UPI सिस्टम में जुड़ने से श्रीलंका और मॉरीशस को भी लाभ होगा।”

भारत के “सागर” या क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा और विकास के समुद्री दृष्टिकोण का उल्लेख करते हुए, मोदी ने कहा: “भारत अपने विकास को अपने पड़ोसी मित्रों से अलग करके नहीं देखता है।”उन्होंने कहा, भारतीय पर्यटक यूपीआई सेवाओं वाले गंतव्यों को प्राथमिकता देंगे और श्रीलंका और मॉरीशस में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों और छात्रों को इसका विशेष लाभ मिलेगा। मोदी ने कहा कि UPI और रुपे सिस्टम वास्तविक समय, लागत प्रभावी और सुविधाजनक भुगतान सक्षम करेंगे और तीनों देश आने वाले समय में सीमा पार प्रेषण या व्यक्ति-से-व्यक्ति भुगतान सुविधा की ओर बढ़ सकते हैं।

मोदी ने अपनी “पड़ोसी पहले” नीति पर भारत के फोकस पर भी प्रकाश डाला और कहा: “पिछले 10 वर्षों में, हमने दिखाया है कि कैसे संकट की हर घड़ी में, भारत लगातार अपने पड़ोसी दोस्तों के साथ खड़ा है। चाहे प्राकृतिक आपदा हो, स्वास्थ्य संबंधी हो, आर्थिक हो या अंतरराष्ट्रीय मंच पर समर्थन हो, भारत प्रथम प्रत्युत्तरदाता रहा है और आगे भी रहेगा।”

परोसी देश से क्या मैसेज आ रहा है UPI और Rupay सर्द को लेकर ?(What Are The Messages About UPI & Rupay Card By The Neighbouring Countries?)

उन्होंने कहा कि भारत ने अपने डिजिटल सार्वजनिक बुनियादी ढांचे का लाभ वैश्विक दक्षिण के देशों तक पहुंचाने के लिए एक “सामाजिक प्रभाव कोष” भी स्थापित किया है।

जुगनॉथ ने कहा कि सह-ब्रांडेड RuPay कार्ड को मॉरीशस में घरेलू कार्ड के रूप में नामित किया जाएगा, जबकि विक्रमसिंघे ने कहा कि उन्हें भारत और श्रीलंका के बीच कनेक्टिविटी की गति और संबंधों को गहरा बनाए रखने की उम्मीद है।

यह लॉन्च श्रीलंका और मॉरीशस की यात्रा करने वाले भारतीय नागरिकों के साथ-साथ भारत की यात्रा करने वाले मॉरीशस के नागरिकों के लिए यूपीआई निपटान सेवाओं की उपलब्धता को सक्षम बनाता है।

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) द्वारा विकसित यूपीआई, मोबाइल फोन के माध्यम से अंतर-बैंक लेनदेन की सुविधा के लिए एक तत्काल वास्तविक समय भुगतान प्रणाली है। RuPay भारत का वैश्विक कार्ड भुगतान नेटवर्क है, जिसकी दुकानों, ATM और ऑनलाइन व्यापक स्वीकृति है।

जुलाई 2023 में विक्रमसिंघे की भारत यात्रा के दौरान, दोनों पक्षों ने एक आर्थिक साझेदारी विज़न दस्तावेज़ को अंतिम रूप दिया, जिसमें विकास के लिए प्रमुख प्रवर्तक के रूप में फिनटेक, वायु और समुद्री कनेक्टिविटी की परिकल्पना की गई थी। भारत वर्तमान में श्रीलंका का सबसे बड़ा व्यापार भागीदार है, साथ ही प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) और पर्यटक आगमन का सबसे बड़ा स्रोत भी है।

Leave a Comment